Contact Information

Delhi

We Are Available 24/ 7. Call Now.
Pride of India

रतन टाटा से सीखें अपने अपमान को सफलता बनाना!

ये बात सन 1998 की है। जब टाटा मोटर अपनी पहली पैसेंजर कार इंडिका बाजार में लेकर आई थी। रतन टाटा ने अपने इस ड्रीम प्रोजेक्ट के लिए जी-तोड़ मेहनत की थी लेकिन उनकी कार को बाजार से ज्यादा अच्छा रेस्पोंस नहीं मिल पाया, जितना की…